कभी 110KG की थी, ऐसे बनी सबसे फिट महिला बॉडीबिल्डर, परिवार नहीं चाहता था बेटी पहने बिकीनी

महिलाएं आज हर फील्ड में पुरुषों की बराबरी कर रही हैं। बॉडी बिल्डिंग भी ऐसा क्षेत्र है जहां महिलाएं धूम मचा रही हैं। अब हरियाणा के गुड़गांव की रहने 33 वर्षीय गीता सैनी (Geeta Saini) को ही ले लीजिए। गीता कभी 110 किलो की हुआ करती थी, लेकिन उन्होंने अपनी मेहनत और लगन के दम पर न सिर्फ वजन कम किया, बल्कि एक सफल भारतीय महिला बॉडीबिल्डर भी बन गई।

एक ओवरवेट लड़की से बॉडीबिल्डर बनने का ये सफर गीता के लिए बड़ा चैलेंजिंग था। गीता जब 21 साल की थी तब 110 किलो की थी। घर की लाड़ली होने के चलते उन्हें देसी खाना, घी, मक्खन, दूध, दही खूब दिया जाता था। वहीं अपनी ग्राफिक्स डिजाइनर की जॉब के चलते वे घंटों ऑफिस में एक जगह बैठी रहती थी और जंक फूड भी खाती थी।

2009 में यूट्यूब पर कुछ वीडियोज देख वे फिटनेस को लेकर जागरूक हुई। उन्होंने अपने आधे अधूरे ज्ञान से -1.5 साल में 40-42 किलो वजन कम कर लिया। ऐसा उन्होंने सिर्फ खाना छोड़ और कार्डियो कर किया। लेकिन इससे उनकी स्किन लटक गई। क्योंकि उन्होंने अपनी वेट लॉस जर्नी में 1 दिन भी वेट ट्रेनिंग नहीं की।



गीता ने अपनी ये समस्या प्रोफेशनल बॉडीबिल्डर रह चुके भाई को बताई। उनकी गाइडलाइन में गीत ने 2015 से 2016 के बीच ट्रेनिंग लेकर लटकी हुई स्किन को टाइट कर लिया। तब उनका वजन 70 किलो था। उनकी बॉडी का अच्छा शेप देख भाई ने उन्हें प्रोफेशनल बॉडीबिल्डर बनने का सुझाव दिया। हालांकि गीत रूढ़िवादी परिवार और महिलाओं की पर्दा प्रथा के चलते संकोच कर रही थी।

प्रोफेशनल महिला बॉडीबिल्डर को स्टेज पर बिकीनी पहननी पड़ती है। हालांकि गीता के भाई ने परिवार वालों को किसी तरह इसके लिए मला लिया। उसने कहा कि ये बस एक स्पोर्ट ड्रेस ही है। इसके बाद गीता के भाई ने उन्हें मिस्टर वर्ल्ड, मिस्टर इंडिया जैसे कई बॉडी बिल्डिंग कॉम्पिटिशन जीत चुके प्रोफेशनल बॉडीबिल्डर यतिंदर सिंह (Yatinder singh) से मिलाया। गीता ने उन्हें अपना गुरु मानकर उनके अंडर में कॉम्पिटिशन के लिए ट्रेनिंग लेना शुरू कर दिया।

3 महीने की ट्रेनिंग के बाद जब गीता ने कॉम्पिटिशन में हिस्सा लिया तो उनकी 10वीं रैंक आई। फिर गीता ने इसी पर फोकस स्टार्ट किया। अभी तक वे 3 बार मिस इंडिया कॉम्पिटिशन जीत चुकी हैं। वहीं 2018 में Miss.Asia कॉम्पिटिशन में 4th रैंक और 14th सीनियर वुमन्स बॉडीबिल्डिंग 2022 कॉम्पिटिशन में गोल्ड मेडल ला चुकी हैं।


गीता की डाइट कुछ इस प्रकार है –

  • मील 1 (Meal 1): 1 स्कूप व्हे प्रोटीन, 10 ग्राम ओट्स
  • मील 2, वर्कआउट के बाद (Meal 2): 1 स्कूप प्रोटीन, 150 ग्राम कार्ब्स (ओट्स या चावल)
  • मील 3 (Meal 3): 200 ग्राम चिकन, 60 ग्राम ओट्स, 200 ग्राम हरी सब्जी
  • मील 4 (Meal 4): 5 एग व्हाइट + 1 पूरा अंडा, 150 ग्राम हरी सब्जी
  • मील 5, शाम के वर्कआउट के बाद (Meal 5): 1 स्कूप प्रोटीन, 150 ग्राम कार्ब्स (ओट्स या चावल)
  • मील 6, डिनर (Meal 6): 200 ग्राम चिकन, 200 ग्राम हरी सब्जी
  • मील 7 (Meal 7): 1 स्कूप कैसीन प्रोटीन, 40 ग्राम ओट्स


गीता सैनी के वर्कआउट की बात करें तो वे दिन में दो बार वर्कआउट करती हैं। सुबह छोटे मसल्स को जबकि शाम को बड़े मसल्स को ट्रेन करती हैं। वहीं वे सुबह 1 घंटा खाली पेट कार्डियो करती हैं। इसके अलावा हफ्ते में 2 बार एब्स की ट्रेनिंग करती हैं। गीता लोगों को यही सलाह देती हैं कि फिटनेस दो तीन महीनों में नहीं आती। इसके लिए सालों की मेहनत और सर्टिफाइड फिटनेस कोच के अंडर में सही ट्रेनिंग की जरूरत होती है।